बच्चों को ऑनलाइन सुरक्षित रखने के 5 तरीके

आज के लगातार बढ़ते डिजिटल जगत में आपके बच्चे अपना बहुत सारा समय ऑनलाइन बिताते हैं। क्लासेस से लेकर खाली समय और इससे लेकर सोशल बातचीत तक उनकी जिन्दगी का बहुत बड़ा हिस्सा ऑनलाइन तब्दील हो गया है।

माता-पिता होने के नाते आपके लिए यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि ऑनलाइन दुनिया में लोगों से बातचीत के दौरान आपके बच्चे महफूज़ रहें। यह सुनिश्चित करने के यहाँ 5 चरण दिए गए हैं:

जागरूकता बढ़ाएं

सबसे जरूरी चीज है कि आप उन्हें ऑनलाइन दुनिया के खतरों के बारे में बताएं। उन्हें पासवर्ड को गुप्त रखने की अहमियत के बारे में बताएं और उन्हें साइबरसिक्यूरिटी के कॉन्सेप्ट्स से परिचित कराएं।

अपने बच्चे की पहचान की रक्षा करें

अपने बच्चों से इन्टरनेट पर अपनी निजी जानकारी साझा करने के जोखिमों के बारे में बात करें। निजी जानकारी में फ़ोन नंबर और पते जैसी संवेदनशील जानकारी हो सकती है।

अपने कंप्यूटर को सुरक्षित रखें

आपको अपने परिवार को स्कैमर, हैकर और अन्य ऑनलाइन खतरों से सुरक्षित रखना चाहिए जिससे वित्तीय धोखाधड़ी हो सकती है। उन्हें इस तरह के खतरों के बारे में अवगत कराएं और सुरक्षित रहने के लिए अपनी सॉफ्टवेयर सुरक्षा अपडेट करें।

ऑनलाइन एक्टिविटी पर नजर रखें

इंटरनेट पर हर तरह के डोमेन के कंटेंट ऑनलाइन मौजूद होते हैं। माता-पिता होने के नाते आपके लिए अपने बच्चे को अनचाहे कंटेंट से दूर रखना जरूरी है। आप ऐसा पैरेंटल कंट्रोल ऑप्शन के इस्तेमाल से कर सकते हैं।

साइबरदादागिरी रोकें

आपको अपने बच्चों को सीखाना चाहिए कि वे सोचसमझकर ही इंटरनेट पर कुछ भी पोस्ट करें। उन्हें दूसरों से ऑनलाइन निर्दयी या अप्रिय होने के नतीजे के बारे में याद दिलाएं। 

इन चीजों के बारे में अपने बच्चों को सीखाकर आप यह तय करेंगे कि उन्हें सीखने का सबसे मुमकिन सुरक्षित अनुभव मिले।

ऑनलाइन सीखते समय अपने बच्चे की सुरक्षा सुनिश्चित करने के बारे में ज्यादा जानने के लिए हमारे वेबिनार में शामिल हों - https://www.dellaarambh.com/webinars/