मेरी बेटी वर्णमाला सीखने के लिए पीसी का उपयोग करती है

 


स्नेहा जैन https://blogsikka.com पर एक मल्टीटास्किंग ब्लॉगर मॉम हैं।वह बारह सालों तक माइक्रोबायोलॉजिस्ट रही हैं और साथ ही रिसर्च भी किया है।वह एक समर्पित तकनीक प्रेमी हैं और 18 वर्षों से पीसी का इस्तेमाल कर रही हैं।

1) शिक्षा के लिए पीसी का उपयोग करने पर आपके क्या विचार हैं ?

मैं कहूँगा कि पीसी नई चीजों को सीखने के लिए एक अद्भुत और संवादात्मक तरीका है। यह हमें तेज़ी से विकसित करने और कम उम्र में चीज़ें सीखने का अवसर देता है।माता-पिता की मौजूदगी में सीमित घंटों के लिए पीसी के उपयोग की हमेशा अनुशंसा की जाती है।

2) माता-पिता के रूप में, शिक्षा का भविष्य आपको कैसा दिखता है?

सिक्के के हमेशा दो पहलू होते हैं। मैं देखता हूं कि जिस तरह से बच्चा सीखता है वह अलग और इंटरैक्टिव होगा और अंततः वर्चुअल लर्निंग बढ़ेगी लेकिन आज की पीढ़ी इतनी तेज है कि वे सब कुछ जल्दी से सीखना चाहते हैं और यह केवल पीसी और इंटरनेट का उपयोग करके किया जा सकता है।

3) आप अपने से छोटों की शिक्षा के लिए पीसी का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं?

मेरी बेटी पीसी का इस्तेमाल वर्णमाला ,नयी कविताएं, सीखने और अन्य चीज़ें जैसे जानवर ,रंग इत्यादि के बारे में जानने के लिए करती है।

मुझे लगता है पीसी युग के पहले की तुलना में शिक्षा अब ज्यादा आसान हो गयी है। मैं अपनी बेटी को लाइव वीडियोज़ का इस्तेमाल करके वीडियोज़ और एनीमेशन की मदद से उसे क्राफ्ट और जीवन सिद्धांतों और नियम पढ़ाती हूँ।मुझे पता है वो एक समय पर इसकी आदि हो जाती है इसलिए मैंने एक निर्धारित समय सीमा तय कर रखी है जिससे कि इसका इस्तेमाल अधिकता से नहीं कुशलता से किया जाए।असल में, घर में पीसी होना ज़रूरी है क्योंकि मैं अपनी प्यारी बेटी को पेंट और डिक्शनरी का इस्तेमाल सिखा सकूं जिसकी मदद से वह पेंट पर चित्रकारी और वर्ड पर लिखना सीख सके।सिर्फ यही नहीं पीसी मुझे उसके लिए वर्कशीट्स बनाने और दिए गए होमवर्क को डाउनलोड करने में भी मदद करता है। पीसी अनेक तरह के खाली स्केच ढूँढने में भी मेरी मदद करता है जिसे मैं अपनी बेटी को रंग भरने के लिए देती हूँ।और तो और , मैं अपने पीसी में बहुत सी शिक्षात्मक फिल्में भी प्ले करती हूँ ताकि वह वास्तविक दृश्यता के साथ अवधारणाओं को समझ सके।